प्रजनन एवं इसके प्रकार (Reproduction and its type)

प्रजनन एवं इसके प्रकार (Reproduction and its type)

प्रजनन, जीवधारियों में स्वयं के समान जीवों की नई पीढ़ी को उत्पन्न करने की क्षमता है।

प्रजनन के आधारभूत लक्षण : सभी जीव प्रजनन करते हैं। जीवों में प्रजनन की विभिन्न विधियाँ होती हैं, किन्तु सभी विधियों में कुछ समान आधारीय लक्षण पाये जाते हैं, जो निम्न हैं –

1.  DNA की पुनरावृत्ति (replication) : यह प्रजनन का आण्विक आधार है।

2. कोशिका विभाजन, केवल समसूत्री या समसूत्री एवं अर्धसूत्री दोनों। यह प्रजनन का कोशिकीय आधार है।

3.  प्रजनन कायों (reproductive bodies) या इकाईयों का निर्माण।

4. प्रजनन कायों का संतति में विकास।

प्रजनन के प्रकार (Types of reproduction) : यह मुख्यतः दो प्रकार का होता है –

1. अलैंगिक (अयुग्मिक)  जनन

2. लैंगिक (युग्मिक)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *